blogid : 12846 postid : 813180

आपके बीच रहने वाली इन जुनूनी महिलाओं ने बदल कर रख दिया है सारे समाज का नजरिया

Posted On: 7 Dec, 2014 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

महिलाओं के प्रति कई नकारात्मक खबरों के सुर्खियों में आने के बाद भी हमारे आसपास ऐसी कई महिलाएँ हैं जिन्होंने विपरीत परिस्थितियों का सामना करते हुए भी अपने कारनामों से महिलाओं और पूरे समाज को प्रेरित किया है. ये समाज के लिए प्रकाश-पुंज का काम करती हैं. जानिए ऐसी ही कुछ महिलाओं के बारे में……


Bhanwari Devi

भँवरी देवी

एक कुम्हार परिवार में जन्म लेने वाली भँवरी देवी पिछड़ी महिलाओं की साथिन बनकर उनको रास्ता दिखा रही है. वर्ष 1985 से महिला विकास परियोजना के तहत काम करते हुए उन्होंने सामाजिक मुद्दों जैसे स्वास्थ्य, साक्षरता, जल आदि पर महिलाओं को जागरूक किया है.वर्ष 1992 में जब वो बाल-विवाह जैसे मुद्दे पर आवाज़ उठाने लगी तो उन्हें इसका गंभीर परिणाम भुगतना पड़ा. उनके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया. लेकिन भँवरी देवी ने नज़रें नहीं झुकाई और खुलकर इस बारे में लोगों से बात की. सामाजिक बहिष्कार के बावजूद उन्होंने अपना जीवन महिलाओं के कल्याण के लिए समर्पित कर दिया.



Read: आपके बीच रहने वाली इन जुनूनी महिलाओं ने बदल कर रख दिया है आपका नजरिया




victim




लक्ष्मी

16 वर्ष की उम्र में ही दिल्ली के व्यस्त खान मार्केट इलाके में एक लड़की पर एसिड फेंका गया. यह लड़की और कोई नहीं लक्ष्मी थी. उसके परिवारवालों ने उसका फौरन उपचार करवाया. इस उपचार और न्याय के लिए लक्ष्मी की लड़ाई में उसके परिवार के सारे संसाधन और पैसे खत्म होने के कगार पर पहुँच गए. लक्ष्मी ने दूसरों के बारे में सोचते हुए उच्चतम न्यायालय में एसिड की बिक्री के नियमन के लिए जनहित याचिका दायर की. इस वर्ष मार्च में लक्ष्मी के प्रयासों के लिए उन्हें ‘इंटरनेशल वूमेन ऑफ करेज अवार्ड’ से सम्मानित किया गया.





vlcc vandana



Read: साईकिल मैकेनिक की ये बेटी देगी न्यूयॉर्क में भाषण



वंदना लूथरा

वंदना लूथरा किसी व्यवसायिक घराने से नहीं आती. छोटी-सी उम्र में ही उन्हें सभी के बाल काटने का और अपने घर के सदस्यों पर फेसियल करने का शौक था. कॉलेज के जमाने में उन्हें ऐसे कई दोस्त मिले जो अपना वजन घटाना और सुंदर दिखना चाहती थी. तभी उन्हें एहसास हुआ कि उनके पास अपने हुनर को व्यवसाय में बदल कर संतुष्टि का अच्छा अवसर है. अपने इसी जुनून के कारण वो आज ‘वंदना लूथरा कर्ल्स एंड कर्व्स’ की संस्थापक और मालकिन है. यह कंपनी आज ब्यूटी पार्लर और जिमनेसियम के लिए विश्व भर में मशहूर हो चुकी है. Next……..



Read more:

महिला खेल की अगुआ ‘मैरीकॉम’

बिछिया और महिलाओं के गर्भाशय का क्या है संबंध

जमानत पर रिहा हुई वह महिला जिसने पुरुषों का वॉलीबॉल मैच देखने की हिमाकत की




Tags:                               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 2.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran