blogid : 12846 postid : 54

पहली रात जब पति ही दोस्तों के हवाले कर दे

Posted On: 26 Nov, 2012 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

women cryingशादी के बाद सुहागरात के सपने हर पत्नी देखती है और उसके दिल में अपने पति को लेकर हजारों अरमान होते हैं पर सोचिए जरा यदि सुहागरात वाले दिन ही पति अपनी पत्नी को दोस्तों के हवाले कर दे और यह कहे कि मेरे दोस्तों के साथ रोमांस कर तो अब आप सोच सकते हैं कि उस महिला के दिल पर क्या गुजरी होगी जिसके पति ने उसे अपने ही दोस्तों के हवाले कर दिया. क्या फिर यह कहें कि पति ने अपनी ही पत्नी का बलात्कार करा दिया. बुलंदशहर में पति-पत्‍नी के रिश्ते की दर्दनाक कहानी सामने आई है. कुछ दिनों पहले लापता हुई एक लड़की के साथ  गैंगरेप हुआ है. इस घिनौनी हरकत को अंजाम देने वाला कोई और नहीं, बल्कि उसका पति ही है. लड़की ने आरोपी से लव मैरिज की थी. वह पिछले 4 साल से गांव के युवक मोनू से प्यार करती थी और एक रात को वह घर से ढाई लाख कीमत के सोने-चांदी के गहने लेकर भाग गई और दोनों ने एक मंदिर में जाकर शादी रचा ली थी. शादी के बाद जब वह अपने कमरे पर पहुंची तो उसका प्रेमी उसे छोड़कर दोस्तों के साथ शराब पीने चला गया और देर रात वह अपने सात दोस्तों के साथ आया और उसे दोस्तों के हवाले कर दिया. इतना ही नहीं एक महीने तक बंधक बनाकर उसके साथ सभी आठ आरोपियों ने गैंगरेप भी किया.

Read: इज्जत बचानी है तो मर्द के सामने ही मत आना !!


Read : पापा ने मेरे साथ …..और फूट-फूट कर रोने लगी !!


प्यार, शादी और धोखा

सोचिए जरा कितना आसान है मर्दवादी समाज के लिए किसी महिला को अपने प्यार के जाल में फंसाना और फिर शादी जैसे पवित्र बंधन का मजाक बना देना. क्या वास्तव में पुरुष प्रधान समाज के लिए शादी, प्यार, दोस्ती जैसे रिश्तों का कोई अर्थ नहीं है या फिर केवल महिलाओं के लिए ही वो इन सब रिश्तों के अर्थ को निरर्थक बना देते हैं.


जब कोई महिला किसी पुरुष से दोस्ती करती है तो समाज के लिए वो गलत है पर जब कोई पुरुष किसी महिला से दोस्ती करता है तो समाज पुरुष के आचरण पर गंदे दाग नहीं लगाता है. ऐसे ही जब कोई महिला प्रेम विवाह करती है तो वो निम्न आचरण की हो जाती है पर जब कोई पुरुष प्रेम विवाह करता है तो उसके आचरण पर मर्दवादी समाज की अंगुलियां नहीं उठती हैं. एक महिला जो समाज के हजार तानों को सहन करके प्रेम विवाह करती है और उसके बाद उसका प्रेमी ही उसकी जिंदगी को मजाक बनाकर रख दे तो उस महिला को मौत जिंदगी से कहीं ज्यादा बेहतर लगती है. वास्तविक सच हमारे समाज का यह है कि महिलाओं के साथ रिश्तों के नाम पर धोखा होता आया है……….कभी पिता ने गरीबी की मजबूरी में बेचा है, कभी भाई ने रक्षा करने का अपना वादा तोड़ा है, कभी पति ने ही अपने दोस्तों के हवाले किया है.


Read:प्रेमी के चेहरे में ऐसा क्या था ?

लड़कियां खुद बेचने को तैयार हैं

यहां मौत के घाट उतारा जाता है

गुरु दक्षिणा में मांग ली उसकी इज्जत ….!!


Tags: women empowerment, women empowerment in india, husband and wife relationship, indian society and women, नारी, औरत,महिला



Tags:               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

mayankkumar के द्वारा
December 5, 2012

काफी वक्त के बाद ऐसी कलम मिली है ………. लेख सार्थक, रोचक !!! हमारे ब्लाॅग तक भी जावें … !!!


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran